अब जियो और एयरटेल में होम ब्रॉडबैंड सेगमेंट की टक्कर
| 17 Jan 2017

नई दिल्ली, 17 जनवरी (वेबवार्ता)। देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी भारती एयरटेल और देश के सबसे अमिर मुकेश अम्बानी की टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो इंफोकॉम में होम ब्रॉडबैंड यानी फाइबर-टु-द-होम (एफटीटीएच) सेगमेंट की टक्कर शुरू हो गई है। रिलायंस जियो ने जहां हाईस्पीड इन-होम ब्रॉडबैंड के लिए तीन बड़े शहरों- मुंबई, पुणे और चेन्नई में पायलट सर्विसेज शुरू की हैं, वहीं अब सुनील मित्तल की कंपनी भारती एयरटेल ने वी-फाइबर के जरिये ब्रॉडबैंड सेवा देना शुरू किया है। एयरटेल की वी-फाइबर यूरोपियन स्टैंडर्ड वेक्टोराइजेशन टेक्नोलॉजी पर आधारित है। इससे होम-ब्रॉडबैंड के अनुभव में एक बड़ा बदलाव आ सकता है।
एयरटेल के प्रवक्ता ने बताया कि इसके जरिए मल्टी-डिवाइस या वाई-फाई में 100 एमबीपीएस तक की स्पीड दी जा सकती है। एयरटेल नए कस्टमर्स को तीन महीने का अनलिमिटेड फ्री ट्रायल ऑफर दे रही है। एयरटेल ने आठ शहरों- मुंबई, चेन्नई, पुणे, बेंगलुरु, हैदराबाद, अहमदाबाद, इंदौर और भोपाल में वी-फाइबर बेस्ड ब्रॉडबैंड सर्विसेज लॉन्च कर दी हैं। कंपनी की योजना जल्द ही दिल्ली-एनसीआर में भी इसे शुरू करने की है। देश में होम ब्रॉडबैंड की पहुंच अभी काफी कम है और इसमें केवल 1.8 करोड़ कनेक्शंस ही हैं।
इस सेगमेंट में भारती एयरटेल और रिलायंस जियो को हैथवे, स्पेक्ट्रानेट, तिकोना और नेक्स्ट्रा टेलीसर्विसेज जैसी लोकल कंपनियों से कड़ी टक्कर मिलेगी। एयरटेल ने 2012 में एफटीटीएच सर्विस शुरू की थी। अब यह 90 से अधिक शहरों में उपलब्ध है और इसके कुल कस्टमर्स लगभग 20 लाख हैं। जियो की योजना देश के 100 शहरों में तेजी से एफटीटीएच नेटवर्क लॉन्च करने की है। 31 मार्च तक फ्री सर्विस दी जा रही है। इसके तहत चेन्नई, पुणे और मुंबई के चुनिंदा इलाकों में 100 एमबीपीएस डाटा स्पीड दी जा रही है।