गलत लोगों को अमेरिका में आने से रोकना सहीः ट्रंप
| 14 Feb 2017

वाशिंगटन, 14 फरवरी (एजेंसी)। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपराधियों के खिलाफ चल रही कार्रवाई का बचाव करते हुए कहा है कि यह गलत लोगों को अमेरिका में आने देने से रोकने और देश को सुरक्षित बनाकर रखने के लिए है। इस कार्रवाई के तहत 680 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। ट्रंप ने कहा कि वह अपना चुनावी वादा निभा रहे हैं और अमेरिकी लोग इस अभियान से खुश हैं।
अमेरिका के दौरे पर आए कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन त्रुदू के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा, हमने वाकई एक बढ़िया काम किया है। हम असल में उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई कर रहे हैं, जो अपराधी हैं। इनमें से कुछ लोग तो इतने कुख्यात अपराधी हैं कि जिनका रिकॉर्ड बहुत से आपराधिक मामलों का रहा है।
हम उन्हें ही बाहर निकाल रहे हैं। मैंने यही करने के लिए कहा था। उन्होंने कहा कि प्रशासन अमेरिका को उन समस्याओं से सुरक्षित रखने की नीति का जोरदार तरीके के साथ पालन करेगा, जिनसे दूसरे देश जूझ रहे हैं। ट्रंप ने सोमवार को कहा, हम एक बड़ा और खूबसूरत खुला दरवाजा चाहते हैं और हम चाहते हैं कि लोग इसके अंदर, हमारे देश में आएं लेकिन हम गलत लोगों को अंदर आने नहीं दे सकते और मैं इस प्रशासन के दौरान ऐसा नहीं होने दूंगा। हमारे देश के लोग यही चाहते हैं और यही उनका रूख है। उन्होंने कहा, हमारे इस रूख की सराहना की जा रही है और यह स्वाभाविक समझ वाला रूख है।
हो सकता है कि इसमें कुछ सख्ती हो, यह वाकई सख्ती से कहीं ज्यादा है। यह स्वाभाविक समझ से जुड़ा हुआ रूख है और हम इसे बरकरार रखने वाले हैं। हम नहीं चाहते कि हमारे देश में भी वैसी ही समस्याएं पेश आएं, जो आप सिर्फ यहीं नहीं बल्कि पूरी दुनिया में देख रहे हैं। ट्रंप ने कहा, हम इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे। हम ऐसा नहीं होने देंगे। हम अपने आपको हर वह संभव मौका देंगे, जिससे अमेरिका के लिए चीजें अच्छी हों। वे अच्छी होंगी। अमेरिकी गृह सुरक्षा मंत्री जनरल (सेवानिवृत्त) जॉन कैली ने कहा कि लॉस एंजिलिस, शिकागो, अटलांटा, सेन एंटोनियो और न्यूयार्क सिटी के आव्रजन एवं आबकारी प्रवर्तन (आईसीई) अधिकारियों ने जन सुरक्षा, सीमा सुरक्षा या देश की आव्रजन प्रणाली को खतरे में डालने वाले 680 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया है।
उन्होंने कहा, गिरफ्तार किए गए लोगों में से लगभग 75 प्रतिशत लोग बाहरी देशों से आए अपराधी हैं। इन लोगों पर जनसंहार, यौन उत्पीड़न, नाबालिग के यौन उत्पीड़न, बच्चे के साथ भद्दी और अश्लील हरकतों, नशीले पदार्थों की तस्करी, हमला और हथियार संबंधी आरोप हैं। उन्होंने कहा कि आईसीई इस तरह के अभियानों को नियमित रूप से अंजाम देता है।