गड़खा में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लगाया परिवार नियोजन कैंप, अस्थाई साधनों का हुआ नि:शुल्क वितरण
| 30 Nov 2019

गड़खा में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लगाया परिवार नियोजन कैंप, अस्थाई साधनों का हुआ नि:शुल्क वितरण
• गांव-गांव में कैंप का आयोजन कर स्वास्थ्य विभाग चला रहा अभियान
• कैंप में 50 से अधिक महिलाओं ने लिया हिस्सा
छपरा। जिले में परिवार नियोजन को लेकर सामुदायिक स्तर पर विभाग की ओर से जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। गड़खा प्रखंड के फेरूसा एचएससी में परिवार नियोजन कैंप लगाया गया। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. सरबजीत कुमार ने कैंप का शुभारंभ किया। जिसमें काफी संख्या में महिलाओं ने हिस्सा लिया। कैंप आने वाली महिलाओं को परिवार नियोजन के अस्थायी तथा स्थाई साधनों के बारे में विस्तार से जानकारी दी गयी। परिवार नियोजन कैंप के दौरान बास्केट ऑफ चॉइस कंडोम, कॉपर-टी, अंतरा इंजेक्शन, छाया गोली आदि का निशुल्क वितरण किया गया। इस अवसर पर केयर इंडिया के परिवार नियोजन समन्वयक प्रेमा कुमारी, बीएचएम राकेश कुमार सिंह, बीएम प्रशांत कुमार सिंह, एएनएम पदमावती कुमारी, गायत्री देवी, कुमारी सरोज, रंजना कुमारी समेत अन्य चिकित्सा कर्मी शामिल थे।
पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में अधिक जागरूकता:
केयर इंडिया के परिवार नियोजन समन्वयक प्रेमा कुमारी ने कहा कि सीमित परिवार बेहतर प्रजनन स्वास्थ्य के साथ खुशहाल परिवार की पहचान होती है। दो से अधिक बच्चे होने पर बच्चों की बेहतर परवरिश बाधित होती है। इसके लिए परिवार नियोजन के स्थायी व अस्थाई साधनों को बढ़ावा देना जरुरी है। परिवार नियोजन के प्रति पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में अधिक जागरूकता दिख रही है। पुरुषों को भी परिवार नियोजन के प्रति जागरूक होने की जरूरत है । आप और हम सबको मिलकर जनसंख्या को स्थिर करना है। इसके लिए समय से परिवार नियोजन के साधनों का प्रयोग भी करना होगा। संसाधन सीमित होने पर हम अपने बच्चों की सही से देखभाल नहीं कर पाते हैं । आज के समय की माँग है कि बच्चे दो ही अच्छे जितने अधिक बच्चे होंगे समस्याएँ उतनी ही जटिल होंगी।
कैंप में 50 महिलाएं हुई शामिल:
परिवार नियोजन कैंप में 50 महिलाओं ने हिस्सा लिया।कैंप में आने वाली महिलाओं को अस्थाई तथा स्थाई साधनों के बारे में विस्तार से काउंसलिंग किया गया। अस्थायी उपाय जैसे कंडोम, कॉपर-टी, आईयूसीडी, अंतरा गर्भनिरोधक इंजेक्शन, गर्भ निरोधक गोली आदि का निशुल्क वितरण किया गया।