सब घर में है लेकिन भाजपाई उत्सव मना रहे है , क्यों कर रहे है नियमो का उलंघन सरकार खुद भी अच्छे उधाहरण पेश करे
| 25 Mar 2020

जन उदय : कल प्रधानमंत्री ने पुरे देश में लॉक डाउन का कहा कोरोना वायरस के खतरों और पूरी दुनिया के हालातो को देखते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेंदर मोदी का यह कदम साहसपूर्ण और देश हित में लिया गया कदम है . बिना किसी राजनैतिक , धार्मिक जातिय द्वेष के इस निर्देश का पालन किया ही जाना चाहिए , कुछ विपक्ष के दल प्रधानमंत्री के इस आह्वाहन की निंदा कर रहे है , लेकिन यह बात समझ लेनी चाहिए की यह निंदा दोषरहित रहे . जैसे कि जो लोग रास्ते में फंसे है वे लोग अपने घर कैसे पहुचे , गरीब लोग जिनके पास केवल एक ही कमरे का घर है और अगर उनके किसी सदस्य को कोरोना का शक हो तो वो लोग कैसे अपने आप को अलग रखे ?? क्या सरकार के पास इस बात का इंतजाम है ?? शायद नहीं है

इसके अलावा एक महत्वपूर्ण बात यह है की भाजपा सरकार कोरोना की इस तरह की हालात में भी अपने उत्सव लागातार बना रही है चाहे ये मध्य प्रदेश से खबर हो या योगी सरकार की बात हो

योगी सरकार तो राम लाला की मूर्ति शिफ्ट करने के लिए एक भव्य पूजा कर रही है जिसमे सैंकड़ो लोग शामिल है और ये बात लगातार मीडिया में भी चल रही है , तो क्या सरकार द्वारा इस तरह के उत्सव मनाना सही है ?? जब पूरा देश डर से सहमा बैठा है ऐसी हलात में सरकार को इतनी क्या जल्दी है की सरकार इस तरह के उत्सव को रोक नहीं रही है

सरकार का इस तरह के उत्सव मनाना न तो देश हित में है और न ही मानवता हित में सरकार को इस तरह के आयोजन एकदम रोक देने चाहिए

इसके अलावा मीडिया में लागतार तस्वीर आ रहे है की सरकारी अधिकारी खुलेआम बिना किसी मास्क और दूरी के मीटिंग कर रहे है जिसका बहुत ही गलत सन्देश जा रहा है सरकारऐसे उत्सव रोके और ये भी दिखाए की किसी तरह की पाबंदी सिर्फ जनता पर नहीं थोपी गई है बल्कि हम खुद भी पाबन्द है

फोटो नव भारत टाइम्स