ऐसी क्रांति जिसने आज भारत को बदल दिया : राजीव गाँधी
| 21 May 2020

भारत के लोकप्रिय पूर्व प्रधानमंत्री भारतरन्त श्री राजीव गांधी जी 21 मई को पेरूमबटुर में देश की आंखों के सामने शहीद हो गए थे।
21 मई सद्भावना दिवस के अवसर पर स्वः राजीव गांधी जी को सादर प्रणाम एंवम भावभिनी सादर सुमन श्रद्धांजलि अप्रित करते है ,
गुरविन्दर चडडा ने कहा कि हमे आज भी जब राजीव गांधी जी के बारे सोचते है तो ऐसा महसुस होता है कि जेसे कल की बात हो ,

यह बात है 1984की जबश्रीमति इन्दीरा जी की हत्या हुई तब मे सांसद श्री केयुर भुषण जी के निवास साउथ एवेनु ब्लाक मे था ,तब श्री सुरेश पचौरी जी की अगुवाई मै सभी सांसदो के हस्ताक्षर लेकर श्री राजीव गांधी जी को प्रधानमंत्री बनाने हेतु कार्यवाही की गई थी , उस समय प्रथम बार राष्टपति भवन मे श्री राजीव जी से मिलने का सौभाग्य मिला ,
वर्ष 1988मे मेरे विवाह के बाद श्री राजीव जी ने हम पति,पन्ती को आपना आर्शीवाद दिया ,
उनके छत्तीसगढ़ प्रवास के दौरान मुझे उनके साथ रहने का आर्शीवाद प्राप्त हुआ ,
यह सुनहरे पल को हम सह परिवार जीवन के अनंतकाल तक नही भुल सकते ,
राजीव जी को हमारा सलाम ,,,,,


हम प्रभु येशु से बिनती प्रार्थना करते है की उनकी पवित्र मृतक आत्मा को आपने स्वर्गराज मे निवास देकर संतो व दुतों संग पुनःउत्थान की आशीष प्रदान करे ,


कांग्रेस,गांधी परिवार के सिपाही,

गुरविन्दर जोसफ चडडा राष्टीयअध्यक्ष,
कोरिना मारिया चडडा , अध्यक्ष
टैलेट रिसर्च सेन्टर ,
राकेश घिवर,संगठन सहासचिव
आंनद चोहान,प्रचार महासचिव
कुलदिप सिग , जितेन्द्र सिह,
छोटु नेताम, हेम लाल साहु ,
सोनिया गांधी आस्था मंच
रायपुर