विश्व हिंदू परिषद ने आमिर खान की पीके के खिलाफ शिकायत की
| 29 Dec 2014

नई दिल्ली, (एजेंसी) विश्व हिंदू परिषद (विहिप) और बजरंग दल जैसे संगठनों ने पीके को लेकर अपना विरोध तेज कर दिया है। उनका कहना है कि इस फिल्म में हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को आहत किया गया है। धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाले सीन्स को फिल्म से हटाए जाने की मांग की जा रही है। विहिप ने सूचना और प्रसारण मंत्रालय को पत्र लिखकर इस तरह की फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की मांग की।

इस पत्र में विहिप ने कहा कि इस फिल्म को हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को आहत और उत्तेजित करने के लिए बनाया गया है। इस पत्र पर विहिप के प्रवक्ता विनोद बंसल और विजय शंकर तिवारी के हस्ताक्षर हैं, जिसमें फिल्म के कुछ सीन पर आपत्ति जताई गई है और कहा गया कि कुछ ऐसी ही आहत करने वाली फिल्में बीते दिनों बनी, जिसे सेंसर बोर्ड ने अनदेखा कर दिया। पत्र में ऐसी फिल्म पर रोक लगाने की मांग की गई है।

गौर हो कि फिल्म पीके को लेकर जगह-जगह प्रदर्शन भी हो रहे हैं। कई धार्मिक संगठन फिल्म के कुछ सीन्स को अपमानजनक बताकर इसका विरोध कर रहे हैं और एफआईआर दर्ज की जा रही हैं। फिल्म को बैन करने की मांग भी की जा रही है। मध्य प्रदेश में भी पीके फिल्म के विरोध का दौर शुरू हो गया है। जबलपुर में हिंदूवादी संगठन विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने रविवार को प्रदर्शन कर आमिर खान के पुतले का दहन किया।

विरोध कर रहे संगठन कह रहे हैं कि फिल्म में भगवान शिव का अपमान कर हिन्दू भावनाओं को ठेस पहुंचाई गई है। उनका ये भी कहना है कि फिल्म के निर्माताओं ने पैसे कमाने के लिए हिन्दुओं के भगवानों का अपमान किया है।