गरमा-गरम खौलती चाय पीने से हो सकता है कैंसर
| 15 Jun 2016

पेरिस, 15 जून (एजेंसी)। गरमा-गरम चाय, सूप या हॉट चॉकलेट के शौकीन लोगों के लिए एक बुरी खबर है। हॉट बेवरेज के कारण कैंसर जैसा खतरनाक रोग भी हो सकता है। ये खुलासा किया है संयुक्त राष्ट्र की कैंसर एजेंसी ने। हालांकि ये जरूर कहा गया है कि इस अलर्ट में वो कॉफी नहीं है जो सामान्य तापमान पर सर्व किया जाता है।
इंटरनेशनल एजेंसी फॉर रिसर्च ऑन कैंसर के निर्देशक क्रिस्टोफर वाइल्ड ने कहा, रिसर्च परिणाम से पता चलता है कि अगर आप बहुत गरम पेय पदार्थ लेते हैं तो आपको भोजनपदार्थ वाली नली का कैंसर हो सकता है। इसकी बहुत बड़ी वजह है शरीर के सामान्य तापमान से ज्यादा गरम पेय पदार्थ का लेना।
एजेंसी ने कैंसर के कारण पर करीब 1000 वैज्ञानिक अध्ययनों की समीक्षा की और ये निष्कर्ष निकाला। एजेंसी ने पाया कि कोई भी पेय पदार्थ ऐसा नहीं जिसमें कैंसर का अधिक खतरा दिखता हो लेकिन कुछ तथ्य जरूर सामने आए कि अगर पेय पदार्थों को 65 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा के तापमान पर लिया गया है तो उससे भोजन की नली में कैंसर होने की संभावना बढ़ जाती है।
ये रिसर्च हालांकि भारत में नहीं किया गया है लेकिन चीन, ईरान, टर्की और दक्षिण अमेरिका में किया गया जहां चाय व अन्य पेय पदार्थ बहुत गरम पीने का चलन है। इस तरह 65 डिग्री से अधिक गरम हॉट बेवरेजेस अगर कोई व्यक्ति लेता है तो उसकी भोजन की नली में कैंसर का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है।